नमस्ते! दोस्तो आज की इस रोचक पोस्ट में आप सभी को बताऊंगा कि रस्सी कूद यानि कि skipping rope in hindi, क्या है? एवं इसके फायदे क्या क्या हैं?

skipping rope in hindi


स्किपिंग रोप या फिर रस्सी कूद जिसे हमने बचपन में बहुत बार खेला हैं और यह काफी मजेदार भी था। उस समय हमें सिर्फ ऐसा लगता था कि यह सिर्फ एक खेल है, पर क्या आपको पता है कि यह - वेट लॉस और शरीर के स्वास्थ में कितना लाभदायक है। 

वैसे तो आज कल कोरोना महामारी के कारण हमारा बाहर जाना मना है और जिम भी बन्द हैं। जिसके कारण हम घर में बैठे - बैठे आलसी और हमारा मोटापा भी बढ़ता जा रहा है। 

इसलिए मैंने आपके सेहत का ख्याल रखते हुए आपके लिए skipping rope के फायदे in Hindi को अच्छे तरीके से इस पोस्ट में बताया है । इस पोस्ट को पूरा अंत तक पढ़े क्योंकि इसके बाद आप भी अपने स्वास्थ्य का अच्छे से ध्यान रख सकेंगे और फैट लॉस करना आपके लिए बाएं हाथ का खेल हो जाएगा।

रस्सी कूद क्या है? (What is Skipping rope in Hindi)

Skipping rope या रस्सी कूद एक तरह कि कार्डियो एक्सरसाइज है, जिसे परफॉर्म कर यह शरीर में जमी हुई चर्बी (excess fat) को कम करने और शरीर के स्वास्थ को इंप्रूव करने में बहुत ज्यादा मदद करता है। इसके साथ ही यह शरीर के ब्लड फ्लो को इंप्रूव करके हमारे ह्रदय को स्वस्थ रखता है।

यह किसी भी कार्डियो के मुकाबले अधिक तेजी से कैलोरी बर्न करता है। वैसे आजकल के दिनों में जिम बन्द है तो क्यूं न हम रस्सी कूद कर के ही अपने शरीर को मस्त एवं फिट रखें।

Calories burn with skipping rope:-

  
      Skipping rope                Total calories 
    (Time in minute)                  Burn

            10               ----              131 

            20               ----              263

            30               ----              394
            

रस्सी कूदने के फायदे (benefits of skipping rope in Hindi)

आइए जानते हैं स्वास्थ्य से जुड़े रस्सी कूदने के हैरान करने वाले फायदे।

वेट लॉस (weight loss)

skipping rope in hindi


रस्सी कूद करने से वेट लॉस की प्रक्रिया जल्दी शुरु हो जाती ह। कई लोगों का सवाल होता है कि क्या Rassi kudne से पेट कम होता है? इसका जवाब है -- हां । इस एक्सरसाइज को सही फॉर्म में परफॉर्म करने पर वेट लॉस जल्दी होता है।

ध्यान रहे कि एक्सरसाइज के साथ डायट पर भी फोकस करें। 


कैलोरीज़ बर्न करे (Burn calorie)



यूं तो रस्सी कूद के फायदे शरीर को स्वस्थ रखने में काफी मदद करती है पर इसे परफॉर्म करने करना जितना आसान लगता है उतना है नहीं, इसलिए इसे करने के दौरान काफी ज्यादा कैलोरीज़ बर्न होती है।

जल्दी कैलोरीज़ बर्न होने के कारण वेट लॉस भी जल्द होता है। 

लेग मसल्स को ट्रेंड करे (trained your legs)

skipping rope in hindi


रस्सी कूद हमारे लेग के सारे मसल्स को target करता है। क्वाड, ग्लूट्स , हैमस्ट्रिंग एवं कल्व्स ये सारे ऐसे लेग मसल्स हैं, जिसे रस्सी कूद से ट्रेंड किया जाता है। जो कि इसके बड़े फायदे में से एक है। 


ब्लड फ्लो एवं ह्रदय स्वास्थ में (keeps heart healthy)

skipping rope in hindi


स्किपिंग रोप in hindi, इसके फायदे हमारे शरीर के ब्लड सर्कुलेशन को इंप्रूव करके हमारे ह्रदय को स्वस्थ बनाए रखता है। साथ ही ह्रदय से जुड़े छोटी छोटी प्रॉब्लम्स को दूर करता है। 

इसके साथ जॉगिंग एवं वॉकिंग भी अच्छे कार्डियो हैं जो की ह्रदय के स्वास्थ्य को बेहतर करते हैं।

हाइट बढ़ाए (increase height)

skipping rope in hindi


कुछ लोग के यह सवाल होते हैं कि -- क्या Rassi कूदने से हाइट बढ़ता है, तो इसका जवाब है , हां। यह एक्सरसाइज हाइट को नेचुरली बढ़ाने में काफी मदद करती है। 

हमारे शरीर का हाइट, रीढ़ की हड्डी (spine) की मदद से बढ़ता है। और रस्सी कूद एवं लटकने जैसी चीजें हमारे स्पाइन को स्ट्रेच करते हैं, जिससे हाइट बढ़ने की कुछ संभावनाएं होती है।

(Note :- हाइट बढ़ने का उम्र 18 वर्ष तक ही होती है, इसके बाद हाइट बढ़ने की संभावना कम होने लगती है। तो इस बात का ध्यान रखें।) 

स्किपिंग रोप in hindi, इसके बताए गए फायदे हमारे शरीर को स्वस्थ एवं मजबूत बनाए रखने में काफी महत्वपूर्ण हैं। 

रस्सी कूदने का सही समय (best time for skipping)

रस्सी कूद हो या फिर कोई भी एक्सरसाइज लोग अक्सर इस बात को लेकर काफी परेशान रहते हैं कि :- एक्सरसाइज करने का सही समय क्या है? आइए आज में आपको बता देता हूं ।

skipping rope in hindi


एक्सरसाइज या रस्सी कूद करने का सही समय वैसे तो सुबह ही है। पर बहुत सारे लोग ऐसे हैं जो किसी भी वजह से सुबह एक्सरसाइज नहीं कर पाते । 

सुबह एवं शाम में एक्सरसाइज करने में फर्क इतना सा ही है कि -- 

सुबह में ज्यादा स्ट्रेंथ के साथ एक्सरसाइज नहीं हो पाती क्योंकि हमारे शरीर में पर्याप्त ऊर्जा नहीं हो पाती और pre workout लेने के लिए उतना समय भी नहीं होता। पर सुबह की एक्सरसाइज दिन भर हमे एक्टिव रखती है। 

शाम की एक्सरसाइज काफी बेहतर ढंग से होती है, क्योंकि पूरे दिन हम बहुत सारे प्रोटीन एवं कार्बोहाइड्रेट का सेवन कर चुके होते है, जो की एक्सरसाइज के दौरान हमे एनर्जी प्रदान करते हैं।

हां। पर ऐसा बिल्कुल भी नहीं है कि एक्सरसाइज को अलग अलग समय करने पर रिजल्ट्स भी कम और अधिक मिलेंगे। दोनो में एक ही तरह के रिजल्ट्स मिलेंगे।

इसलिए जब भी आपको समय मिले आप जरूर रस्सी कूद या एक्सरसाइज करें।

रस्सी कूद कैसे करें (how to perform skipping rope)

आइए जानते हैं रस्सी कूद करने के आसान तरीके, जिसे कोई भी आसानी से परफॉर्म कर सकता है।



उपर दिखाए गए वीडियो के अनुसार ही आपको इसे परफॉर्म करना है। पर कुछ आसान टिप्स हैं, जिसे आप फॉलो जरूर करे :- 

1. रस्सी कूद को चिकने surface पर ना करे, क्योंकि इससे पैर फिसलने पर चोट लग सकती है।

2. beginners पहले दिन से ही इसे ज्यादा न करे। 

3. शुरु में धीरे धीरे इसे परफॉर्म करे।

4. इसे परफॉर्म करते वक़्त अपने घुटने को हल्का सा बेंड जरूर कर ले ताकि उछालने में आसानी हो।

5. जब भी कुदे तो अपने पैर के आगे वाले हिस्से को जमीन पर रखें और पीछे वाले हिस्से को हवा में उठाए।

6. रोप हैंडल को हलके हाथों से पकड़। पूरी ताकत से न पकड़े।

रस्सी कूदने के नुकसान (side effect of skipping rope in Hindi)


रस्सी कूद के फायदे को हमने काफी विस्तार से जाना। पर इसके कुछ साइड इफेक्ट्स भी हैं, जिसे हम नीचे जानेंगे।

1. Obessity, अधिक मोटापा वाले लोग इस कार्डियो को परहेज करें। पहले अपने मोटापे को कुछ ओर आसान एक्सरसाइज कर के कम कर लें। उसके बाद ही इसे आजमाएं। 

2. हार्ट प्रॉब्लम्स, सुगर  एवं उच्च रक्त चाप से ग्रसित लोग, इसे परफॉर्म न करें। 

3. हड्डियों से जुड़ी प्रॉब्लम्स में इसे ना करें।

रस्सी कूद से जुड़े सवाल एवं जवाब (FAQ)


Q. क्या रस्सी कूद से हाइट बढ़ता है? 
यदि आपकी उम्र 18 वर्ष से कम हो तो हाइट बढ़ने की संभावना रस्सी कूदने से हो सकती है। दरअसल, हाइट का बढ़ना जेनेटिक्स (Genetics) पर निर्भर करता है पर फिर भी कोशिश जरूर करें। 

Q. रस्सी कूदने से कितनी कैलोरी बर्न होती है?
रस्सी कूदने से 20 - 25 मिनट के अंदर 250 से 350 कैलोरी तक आसानी से बर्न हो सकती है।

Q. रस्सी कूदने से कितने दिन में वजन कम होता है?
यदि आप एक अच्छी डाइट और रोजाना 20 मिनट तक रस्सी कूद कर रहे हैं तो आपको 1 हफ्ते के बाद असर दिखने लगेगा। 

Q. रस्सी कूद कितनी देर तक करना चाहिए?
रस्सी कूद को रोजाना 15 से 20 मिनट तक करना उत्तम माना जाता है। 

Q. रस्सी कूदने का सही समय कौन सा है?
आप रस्सी कूद को सुबह या शाम इन दोनों में से किसी भी समय आसानी में कर सकते हैं।

Q. रस्सी कूदने के नुकसान क्या - क्या है?
रस्सी कूदने का नुकसान उन लोगों को है, जिन्हें हाई ब्लड प्रेशर, हृदय की बीमारी, अधिक मोटापा या डायबिटीज की समस्याएं है। यदि आप एक स्वस्थ व्यक्ति हैं तो आप रोजाना रस्सी कूद कर सकते हैं, आपको इससे कोई नुकसान नहीं होगा।

Conclusion:- 

1. रस्सी कूद बहुत ही effective एक्सरसाइज है, जो शरीर को स्ट्रेंथ बढ़ाने एवं वेट लॉस में काफी फायदमंद है।

2. इसके साथ अपने डायट को भी अच्छे से फ़ॉलो करें ताकि अच्छे रिजल्ट्स मिले।

3. रस्सी कूद के दौरान बताए गए टिप्स को अच्छी तरीके से फ़ॉलो करें।

4. इसके साथ ही शरीर को अच्छे से रेस्ट दे।


यदि आपको मेरी यह स्किपिंग रोप in hindi, पोस्ट अच्छी लगी तो नीचे कमेंट कर के जरूर बताएं। 

साथ ही ऐसे ही स्वास्थ से जुड़े रोचक पोस्ट के लिए हमें फ़ॉलो करें। धन्यवाद। 


Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box.

Previous Post Next Post