आज के इस पोस्ट में हम जानेंगे कि इम्यूनिटी कैसे बढ़ाए और इम्यूनिटी in Hindi, इससे जुडी सारी बातें।

immunity in Hindi

आज कल कॉरोना महामारी के दौरान, इससे बचाव के लिए अपने इम्यूनिटी का खास ख्याल रखना कितना आवश्यक है, ये तो हम सब जानते हैं। पर किस तरह से हम अपने इम्यूनिटी का खास ख्याल रखें, वो भी आसानी से, यही में आज आपको बताऊंगा। जिसको फ़ॉलो कर के आप भी इम्यूनिटी सिस्टम को बेहतर कर पाएंगे।

इम्यूनिटी क्या है, यह जानने के लिए पोस्ट को आगे पढ़ते रहें।

इम्यूनिटी क्या है? - What is immunity in Hindi

इम्यूनिटी का मतलब रोग प्रति - रोधक क्षमता होता है। अन्य शब्दों में बात की जाए तो शरीर में मौजूद वह कोशिका जो बाहरी व शरीर के अंदर रहने वाले वायरस, और हानिकारक बैक्टीरिया से लड़कर हमारे शरीर को बचाता है एवं शरीर को स्वस्थ रखने में एहम भूमिका निभाता है।

उपर बताए गए यह परिभाषा से ही आपको अंदाजा लग  होगा की इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत रखना कितना जरूरी है। वैसे तो आजकल अन हेल्थी खान पान के कारण हमारा इम्यून सिस्टम पर बहुत बुरा असर पड़ गया है।

साथ ही आजकल, मार्केट में उपलब्ध हजारों तरह के फास्ट फूड के सेवन के कारण, हमारे शरीर को सही मात्रा में न्यूट्रिएंट्स (nutrients) नहीं मिल पा रहे, जिसके चलते हमारा इम्यून सिस्टम कमजोर पड़ता जाता है। साथ ही अन्य तरह के प्रॉबलम जैसे कि - कब्ज और पेट की बीमारियां होना आम बात है।

इम्यून सिस्टम को मजबूत रखना क्यों जरूरी है? - Why is it important to keep the immune system strong?

इम्यून सिस्टम को मजबूत रखने का खास कारण यह है कि यह हमारे शरीर में प्रवेश करने वाले हानिकारक वायरस से लड़ता है। और हमारे शरीर को स्वास्थ्य रखने में मदद करता है।

Immunity in Hindi



इसके साथ ही छोटी छोटी बीमारियों से लडने में मदद करता है। इम्यून को मजबूत रखना उन लोगों को काफी जरूरी है, जो अक्सर छोटी छोटी बीमारियों (जैसे - खांसी, बुखार) से अक्सर परेशान रहते हैं या तो फिर ऐसे लोगों को जरूर देखा होगा, जो कही भी ट्रैवल करते वक़्त खांसी या बुखार से पीड़ित हो जाते हैं।

वैसे तो कोरॉना के समय में इम्यूनिटी को बेहतर करना हर लोगो के लिए अनिवार्य हो गया है, जिससे कि इस वायरस से बचे रहे, और स्वस्थ रहे।

आइए जानते हैं, एक- एक कर के कमजोर इम्यूनिटी के लक्षण -

जल्दी बीमार होना :

यदि मौसम में थोड़ा भी बदलाव या फिर यदि थोड़ा ट्रैवल करने के कारण आपको तुरत सर्दी, खांसी जैसे प्रॉबलम शुरू होने लगते हैं, तो यह इशारा है, की आपकी इम्यूनिटी कमजोर है।

ऐसे लोगो को इम्यूनिटी का खास ध्यान रखने की ज्यादा आवश्यकता है। जिससे कि आप स्वस्थ रह सके।

पेट की समस्या : 

आज कल के अन हैल्थी खान पान के कारण सबसे ज्यादा बुरा असर हमारे इम्यून सिस्टम पर ही पड़ता है। इसके साथ ही कब्ज, डाइजेसन व पेट की समस्या भी सामान्य है। ऐसी प्रॉबलम आज कल बच्चे और युवा में एक दम सामान्य है।

इन समस्या को नजरंदाज बिल्कुल भी ना करे। बाहरी खाने को अवॉइड करें तथा घर का साफ सुथरा खाने का सेवन करे। इसके साथ फाइबर युक्त खाने का भी अवश्य सेवन करें।

एकाग्रता में कमी : 

अन हैल्थी लाइफ़स्टाइल व जंक फ़ूड के कारण इम्यूनिटी  कमजोर होना, मस्तिष्क के स्वास्थ पर भी बुरा असर डालता है। जिस कारण एकाग्रता, याददाश्त एवं जल्दी भूल जाने जैसी प्रॉबलम शुरू होने लगती है। 

इसलिए अपने लाइफ़स्टाइल को बदले तथा रोजाना एक्सरसाइज व रस्सी कूद, 25 मिनट तक अवश्य करें। जिससे कि ब्रेन कि परफॉर्मेंस बढ़ती रहे।


थकान और अलास रहना :

थकान व आलस रहना आजकल युवाओं में काफी सामान्य हो गया है। इसका साफ मतलब यह है कि आपका इम्यून सिस्टम कमजोर है। यदि आपको भी हमेशा थका हुआ रहने की समस्या है तो इसे इंप्रूव करे।

एक्सरसाइज करें एवं प्रोटीन से भरे हुए खाद्य पदार्थ का सेवन अवश्य करें।

वजन कंट्रोल ना होना :

यदि आप भी अच्छे डाइट को फ़ॉलो कर रहे हैं और बाहर के फास्ट फूड को इग्नोर कर रहे हो, इसके बाद भी आप के वजन में कंट्रोल नहीं हो पा रहा और यह बढ़ते ही जा रहा है, इसका साफ मतलब है कि आपकी इम्यूनिटी कमजोर है।

इसलिए अपनी इम्यूनिटी का खास ध्यान रखें, जिससे कि शरीर का वजन अपने आप ना बढ़े। नहीं तो इसका बुरा असर हमारे शरीर के स्वास्थ पर पड़ सकता है।

शरीर में दर्द रहना -

यदि हर वक़्त शरीर में घुटने में दर्द, या कही पर भी रहता है, तो यह इम्यूनिटी कमजोर होने से जुड़ा हुआ है, वैसे तो यह सारी प्रॉब्लम्स पहले बुजुर्गों में होती थी, पर आजकल युवाओं में भी होने लगी है।

इस चीज को ठीक रखने के काले चने का उपयोग अवश्य ही करें। क्यूंकि यह शरीर की थकान को कम कर के, इन सारे दर्दों को जड़ से ख़तम करने में बहुत असरदार है।


यह थे कुछ इम्यूनिटी in Hindi, इसके कम होने के लक्षण। जिसको जल्द से जल्द ठीक करना चाहिए, ताकि शरीर स्वस्थ्य रहे।

कमजोर इम्यूनिटी होने के कारण जानने के लिए पोस्ट को आगे पढ़ते रहें।

कमजोर इम्यूनिटी होने के क्या क्या कारण हैं? - Causes of low immunity in Hindi

आइए जानते हैं हमारे लाइफस्टाइल से जुड़े कुछ ऐसे ही आदत से जिससे हमारे इम्यून सिस्टम पर इसका बुरा असर पड़ता जा रहा है और इम्यूनिटी कमजोर होता जा रहा है।

immunity in Hindi


1. पूरी नींद न लेना 

नींद को पूरी तरह से नहीं लेने पर यह सीधा हमारे डाइजेस्टिव सिस्टम पर बुरा असर डालता है। जिससे कि पेट की समस्या शुरू होने लगती है। पेट अच्छे से साफ नहीं हो पाता और कब्ज की शिकायत होने लगती है। यह सारी समस्याएं हमारे इम्यून सिस्टम को बहुत कमजोर कर देती है। 

नींद न लेने पर और  भी बहुत प्रॉब्लम्स जैसे कि हार्ट की प्रॉब्लम्स, माइग्रेन, एकाग्रता की कमी होने लगती है। इसलिए बेहतर और अच्छी नींद ले।

2. हमेशा स्ट्रेस लेते रहना

स्ट्रेस लेना एक ऐसी प्रॉबलम है, जो शारीरिक एवं मानसिक स्वास्थ्य दोनों को हानि पहुंचती है। इससे भी तरह तरह के प्रॉब्लम्स जैसे कि एकाग्रता की कमी, बीमार होना एवं हैर फॉल की समस्या शुरू होने लगती है।

इसलिए इम्यून सिस्टम मजबूत बनाने के लिए स्ट्रेस बिल्कुल भी ना ले।

3. शरीर को साफ - सुथरा (Hygiene) न रखना

अपने शरीर को हाइजीनिक रखना भी, शरीर के इम्यूनिटी पर निर्भर करता है। शरीर को साफ न रखने पर   स्किन पर जमी हुई बैक्टीरिया, स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव डालती है। जिससे स्किन प्रॉबलम और जल्दी जल्दी बीमार होना जैसी दिक्कतें होने लगती है।

4. अधिक मात्रा में अनहैल्थी फूड का सेवन करना

फास्ट फूड और जंक फ़ूड का ज्यादा मात्रा में सेवन करने पर हमारे शरीर को इसे डाइजेस्ट करने में काफी प्रॉब्लम्स होती है और पेट अच्छे से साफ न हो पाना भी एक समस्या रहती है, जिससे कि इम्यून सिस्टम पर बुरा प्रभाव पड़ता है। 

इसलिए इसे ठीक करने के लिए फाइबर को अपनी डायट में ज्यादा मात्रा में लें।

5. एक्सरसाइज व योगा न करना

एक्सरसाइज और योगा करने से हमारा शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य भी इंप्रूव होता है। और साथ ही इम्यून सिस्टम भी बूस्ट होता है। इसलिए रोजाना 20 - 25 मिनट एक्सरसाइज जरूर करें। एक्सरसाइज के साथ अच्छी डाइट को फॉलो करना न भूलें।

6. सूर्य की रोशनी को ग्रहण न करना

सूर्य के प्रकाश में विटामिन-D मोजूद रहता है तथा यह हमे उर्जा (Energy) प्रदान करती है। एक स्टडी के मुताबिक यदि रोज़ सूर्यादय से पहले या उसके समय धुप में 20 -25 रहेंगे तो यह हमारे शरीर में मौजूद बैक्टीरिया को ख़तम करेगा और शारीर में मौजूद गंदगी को मूत्र के द्वारा बाहर निकाल ने में मदद करता है।

इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने के साथ शरीर में जमी हुई गंदगी को भी साफ करने महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

इनके सबके अलावा पूरी नींद न लेना, सिगरेट, शराब का सेवन, अधिक चीनी का सेवन करना एवं पैकेज फूड का सेवन भी इम्यूनिटी को कमजोर कर देता है।

यह थे कुछ अन हैल्थी आदत जिससे की हमारी इम्यूनिटी कमजोर होती है। आगे पढ़ें - इम्यूनिटी कैसे बढ़ाएं।

इम्यूनिटी कैसे बढ़ाएं - Raise your immunity in Hindi

immunity in Hindi
Immunity In Hindi

आइए जानते हैं, कि इम्यूनिटी को हम किस तरह से मजबूत बना सकते हैं, जिससे हम अपने शरीर को स्वस्थ रख सकें। 

अश्वगंधा :

अश्वगंधा के फायदे इम्यूनिटी को मजबूत करने में काफी ज्यादा मदद करते हैं। यह एक शक्तिशाली हर्ब्स है, जिसे आयुर्वेद के समय से ही शरीर में इम्यून सिस्टम को ठीक रखने में किया जाता है, और यह हर्ब्स दैनिक जीवन में हो रही प्रॉब्लम्स जैसे कि - नींद न आना, स्ट्रेस रहना और डाइजेसन सही ना रहना। इनमें काफी मददगार साबित होता है।

इसे इस्तेमाल करने का सही समय रात को सोने से पहले हल्के गर्म दूध में 1/2 चमच अश्वगंधा चूर्ण को मिलाकर पी लें। गर्म दूध की जगह हल्के गर्म पानी के साथ भी इसका सेवन कर सकते हैं।


गिलोय : 

गिलोय के औषधि गुण के कारण ही यह भारत में काफी अधिक प्रचलित है। इनमें मौजूद एंटी - वायरल, एंटी इन्फ्लेमेटरी एवं एंटी ऑक्सीडेंट गुण शरीर की इम्यून सिस्टम को बढ़ाने में काफी मदद करता है। इसके सबसे बड़े फायदे में से यह है कि रक्त में उपस्थित सुगर लेवल मात्रा को कम करता है।

गिलोय को चूर्ण के रूप में या इसके टेहनियों को पानी के साथ उबालकर, इसको पी सकते हैं। यह काफी फायदेमंद है।

ग्रीन टी :

ग्रीन टी में उपस्थित एंटी - ऑक्सीडेंट हमारे शरीर में इम्यून सिस्टम को बेहतर करता है। इसके साथ ही यह हमारे मेटाबॉलिज्म (metabolism) बढ़ाता है, जिससे वेट लॉस की प्रक्रिया भी जल्दी होती है। 

ग्रीन टी को दिन में 2 - 3 कप तक पी सकते हैं। पर इस बात का ध्यान रखे कि इसमें चीनी का इस्तेमाल बिल्कुल भी न करें। 

आंवला :

आंवला जो की विटामिन C का सबसे मुख्य स्रोत है, यह इम्यूनिटी बढ़ाने में मदद करता है। यह लिवर को साफ करने में मदद करता है, साथ ही पूरे शरीर को भी डिटॉक्स कर देता है। मधुमेह रोगियों के लिए यह एक वरदान से कम नहीं है।

आंवला को रोजाना अपने डायट में शामिल करें। इसे जूस या अचार के रूप में भी उपयोग कर सकते हैं।

हल्दी : 

हल्दी को आयुर्वेद के समय से ही शरीर को डिटॉक्स करने के लिए उपयोग किया जाता है। बहुत सारे लोगो को लगता है कि हल्दी सिर्फ किचेन में मसाले के तौर पर ही उपयोग किया जाता है, पर ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। यह शरीर की इम्यूनिटी को भी बढ़ता है। इसके साथ ही स्किन पर इसका लेप लगाने से यह त्वचा को साफ करता है।

हल्दी को रोजाना हलके गर्म पानी में आधा चमच मिलाकर पी लें इससे बड़ा फायदा होगा या फिर हलके गर्म दूध में भी इसका सेवन कर सकते हैं। 

घी : 

घी को लेकर बहुत लोगो में अक्सर गलत फहमी होती है कि इससे मोटापा बढ़ता है, पर ऐसा नहीं है। घी के फायदे शरीर के स्वास्थ्य में बहुत ज्यादा मदद करते है। इम्यून सिस्टम को मजबूत करने, डाइजेसन को ठीक करने, वेट लॉस करने में किसी औषधि की तरह काम करता है।

रोजाना 2-3 चम्मच इसका सेवन करना पूरी तरह सुरक्षित है। इसे सुबह के नसते के साथ अपनी डाइट में इसे जरूर शामिल करें।

यह थे कुछ इम्यूनिटी सिस्टम को बढ़ाने के कुछ उपाय। पर इसके अलावा ओर भी चीजे जिनका ध्यान जरूर रखें।

1. हरी सब्जियां एवं sessional fruits का सेवन ज्यादा करे।

2. पैकेज फूड को अवॉइड करें तथा ऑर्गेनिक जूस पीएं।

3. ड्राई फ्रूट्स का सेवन जरूर करें। जिससे पूरा विटामिन मिल सके।

4. प्रोटीन भी सही मात्रा में अपने शरीर को दें।

5. एक्सरसाइज एवं योगा रोजाना 15 - 20 मिनट जरूर करें।

Conclusion :

1. यदि इम्यूनिटी कमजोर हो तो इसे नजर अंदाज़ बिल्कुल भी ना करें। अपने लाइफ़स्टाइल को हैल्थी रखें।

2. अपने शरीर को प्रोटीन, कार्ब्स एवं फाइबर सही मात्रा में दे।

3. अन हैल्थी फूड को खाने से बचे। क्यूंकि लंबे समय के बाद यह पाचन तंत्र पर बहुत बुरा असर डालता है।

इसके साथ ही आप सभी से एक छोटी सी रिक्वेस्ट है, की कोरोना वायरस से बचने के लिए इम्यूनिटी मजबूत रखें, बहुत जरूरी काम हो तभी घर से बाहर निकले या तो घर पर सुरक्षित रहे। 

immunity in Hindi


यदि आपको मेरी यह पोस्ट immunity in Hindi, अच्छी लगी तो नीचे कमेंट कर के जरूर बताएं। ऐसे रोचक और जानकारी पोस्ट पढ़ने के लिए हमें फॉलो करें। धन्यवाद्

 



Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box.

Previous Post Next Post